आमरस पना (शरबत) मन को सुकून देने वाला, पित्त शामक, भूख, ताकत, खून तथा वीर्य वर्धक : नित्यानंदम श्री

1
2316
आमरस

आमरस पना (शरबत)

द्रव्य: पक्के (तैयार) आमरस 1 भाग, शक्कर (चीनी, मिश्री या बूरा) 8  भाग, जल 4 भाग, निम्बू फूल (निम्बू सत / साइट्रीक एसीड) आवश्यकतानुसार 3 ग्राम / प्रति किलो चीनी के हिसाब से, पोटेशियम मेटा बाय सल्फेट (प्रति 1½ लीटर शरबत में 1 ग्राम) ;

निर्माण विधान : 1. प्रथम जलमें चीनी गलाकर गरम करें | और मंदाग्नि पर चासनी बनायें | 2. चासनी बनते समय साइट्रीक एसीड थोड़ा डालने से चीनी का मैल निकल जाता है | 3. फिर चासनी ठंडी होने पर पक्के आम का रस गूदा छानकर डालें और फिर पोटेशियम मेटा बाय सल्फेट को थोड़ा जल में डाल कर मिश्रित करके चासनी में डाल दें | एक तार की चासनी तैयार होने पर ठंडा करके बोतल में भर लें | रंग व गंध आवश्यकतानुसार चाहें तो मिला सकते हैं उसके बिना भी प्रयोग में ला सकते हैं |

मात्रा : आवश्यकता अनुसार 15 से 20 मि. लि. शरबत एक गिलास शीतल जल में घोलकर पियें |

गुणधर्म : ये आमरस शरबत मन को सुकून देने वाला, पित्त शामक (गर्मी व गर्मी से होने वाले रोगों में लाभकारी), पौष्टिक (शरीर को ताकत देने वाला), दीपन (भूख को बढाने वाला), पाचन (खाए हुए भोजन को जल्दी पचाने वाला), खून तथा वीर्य वर्धक और चेतनादायक भी है |

सावधानी : इसे खाली पेट न पियें | दूध में न डालें क्योंकि इसमें निम्बू सत्व का प्रयोग किया गया है | इसे कांच की बोतल में एक वर्ष के लिए स्टोर करके आराम से रखा जा सकता है | बिना प्रीजरवेटिव डाले इसे फ्रिज में  सप्ताह के  रख कर प्रयोग कर सकते हैं |

आनंदम आयुर्वेद

0 0 vote
Article Rating
+2
guest
1 Comment
Oldest
Newest Most Voted
Inline Feedbacks
View all comments
shailly saxena
shailly saxena
9 months ago

Why should we add potassium meta bisulphate? Is it natural? If yes, in which substances do we find it naturally?

0